गौसेवा संकल्प

– आइए मिलकर हम गोसेवा संकल्प लें –

गोसेवा संकल्प

मैं …(आप अपना नाम लें)… गोरक्षार्थ – गोहितार्थ आज से निम्नलिखित गोसेवा संकल्प लेता हूँ।

  1. नित्य नियम मे इष्ट उपासना के अंतर्गत गोरक्षार्थ नियमित प्रार्थना करूंगा।
  2. निराश्रित एवं असहाय गोवंश के सम्पोषणार्थ नियमित गोग्रास प्रदान करूंगा।
  3. दैनिक उपासना, आहार एवं औषधियों मे यथाप्राप्त गोउत्पादों का ही प्रयोग करूंगा।
  4. गोवंश का अहित हो ऐसी वस्तुओं और व्यक्तियों से व्यवहार नहीं करूंगा।
  5. जो जन प्रतिनिधि एवं राजनीतिक दल गौवंश को संरक्षणता प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हो उन्हीं को अपना विस्वास मत दूँगा।

उपरोक्त पांचों संकल्प श्री कृष्ण भगवान और उनकी प्रिय गौमाता की प्रसन्नता हेतु लेने पर हमारे मनों मे दृढ़ता आएगी। भगवान कृष्ण हमें हमारा गोसेवा संकल्प पूरा करने की शक्ति दें ऐसी नियमित प्रार्थना करनी चाहिए।

आपके द्वारा लिया गया गोसेवा संकल्प ही हमारे उद्देश्यों के प्रति आपकी बहुत बड़ी सहायता है।

आपका बहुत धन्यवाद।